जालोर समेत प्रदेश में कमजोर पड़ी मानसून की चाल, मौसम विशेषज्ञों ने यह बताया कारण

जालोर.
जालोर सहित पश्चिम राजस्थान में मानसून की चाल कमजोर पड़ गई है। रविवार को जालोर में 22 मिलीमीटर बरसात हुई थी। पारा भी 29 डिग्री था, लेकिन बुधवार को तीन दिन बाद हालात बदल गए। बारिश नहीं हुई और पारा भी 5 डिग्री बढ़कर 34 डिग्री पहुंच गया। जल संसाधन विभाग के मुताबिक जालोर में अब तक 243 मिमी औसत बारिश होनी चाहिए थी, लेकिन अब तक महज 166 मिमी ही हुई है। जो कि औसत से 77 मिमी कम है। मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम कमजोर पडऩे से मानूसन की स्थिति जालोर सहित प्रदेश में कमजोर पड़ी है, लेकिन एक-दो दिन में फिर से सिस्टम बनने से बरसात होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.