जालोर – बेवड़ा व थैली बोलकर अपमानित करने से नाराज हुए श्रमिक ने सरिए से वारकर साथी श्रमिक की कर दी हत्या

जालोर.

रीको के तृतीय चरण क्षेत्र में बुधवार रात को सुखसागर ग्रेनाइट फैक्ट्री में कार्यरत एक श्रमिक ने साथी श्रमिक की लोहे का सरिया मारकर हत्या कर दी। बाद में आरोपी ने भी आत्महत्या का प्रयास किया, लेकिन विफल रहा। सुबह सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और कड़ी पूछताछ में शक होने पर एक आरोपी को हिरासत में लिया। पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंपा है। आरोपी और मृतक दोनों नागौर जिले के निवासी है। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने उसे अपमानित करने पर हत्या करना कबूल किया है। फिर भी पुलिस मामले की जांच कर रही है। ताकि, अन्य कारणों का भी पता लगाया जा सके।

खुद को अपमानित महसूस कर रहा था आरोपी

पुलिस अधीक्षक केसरसिंह शेखावत ने बताया कि ब्लाइंड मर्डर प्रकरण होने के कारण उन्होंने गंभीरता से लिया। घटना की जानकारी मिलते ही फैक्ट्री में मृतक के साथ रहने वाले सात जनों को पूछताछ के लिए बुलाया गया। जिसमें शक लगने पर छेलूसिंह को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की तो उसने हत्या करना कबूल किया है। जिसमें सामने आया कि सुखसागर ग्रेनाइट फैक्ट्री में सुरपालिया (नागौर) थाना क्षेत्र के गुगरियाली निवासी भागीरथसिंह (35) पुत्र मोहनसिंह रावणा राजपूत टै्रक्टर ट्रॉली से स्लरी डालने का काम करता था। उसी फैक्ट्री में बालाजी (नागौर) थाना क्षेत्र के जटेरा निवासी छैलूसिंह (22) पुत्र भंवरसिंह भी मशीन पर कार्य करता है। भागीरथ हमेशा छेलूसिंह को अनेक प्रकार के शब्दों से अपमानित करता था। उसे हमेशा बेवड़ा, थैली, भीखारी, भगवान करे कभी तेरे पास पैसे नहीं आवे…, ऐसे शब्दों से अपमानित करता था। जिससे छैलूसिंह ने रात को नींद में सोए हुए भागीरथ पर सरिए से वारकर हत्या कर दी और वारदात में प्रयुक्त लोहे के सरिए को हौद में डाल दिया। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ शुरू की है। जिससे अन्य कारणों का भी पता लगाया जा सके।

Leave a Comment

Your email address will not be published.